Anuprati Yojana: बेटियों को मिलेगी 15 हजार की राशि, ऐसे करें योजना में आवेदन

Anuprati Yojana: राजस्थान सरकार(Rajasthan Gvernment) की तरफ से दिया जा रहा है. बेटियों को तोहफा इन बेटियों को मिलेंगे 5000,12000 और ₹15000 तक की राशि. राजस्थान एक कृषि प्रधान राज्य है, यहां पर कृषि विषय से पढ़ने वाली छात्राओं को राजस्थान के सरकार के द्वारा प्रोत्साहन राशि प्राप्त हो रही है.

Anuprati Yojana

यदि आप भी राजस्थान के निवासी है और आपके यहां बेटी है तो आप 31 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन करके इस प्रोत्साहन राशि को प्राप्त कर सकते है. इस आवेदन को आवेदित करने के लिए आपको राज किसान पोर्टल (Kisan Portal) पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा.

क्या कहता है जिला परिषद

जयपुर जिला परिषद के कृषि उप निदेशक श्री राकेश कुमार अटल जी ने सीनियर सेकेंडरी कक्षा में पढ़ने वाली छात्राओं को ₹5000 की राशि देने की घोषणा की है. इसके अलावा स्नातक करने वाली छात्राओं को कृषि विषय के लिए ₹12000 का वजीफा देने की घोषणा की गई है, और जो छात्राएं स्नातकोत्तर अध्ययन कर रही है उनके लिए यह प्रोत्साहन पुरस्कार ₹15000 घोषित किया गया है. शर्त यह है कि आपको किसी विषय को ही ले करके पढ़ाई करनी होगी.

15 Oct तक करें आवेदन

मुख्यमंत्री अनुप्रीत कोचिंग योजना (Mukhyamantri Anupriti Yojana) राजस्थान सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली एक फ्री कोचिंग योजना है, जिसके लिए आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक है. सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग के सचिव डॉ समित शर्मा के द्वारा यह बताया गया कि इस योजना के अंतर्गत जो भी आवेदक कोचिंग (Coaching) करना चाहते है. उन्हें एसएसओ पोर्टल पर जाकर 15 अक्टूबर से पहले ऑनलाइन आवेदन करना होगा.इसके अलावा जो लोग अगले वर्ष के लिए अभी से कोचिंग संस्था में अपना पंजीकरण कराना चाहते है. वह भी 15 अक्टूबर तक इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है

योजना की पात्रता का विस्तृत विवरण पाने के लिए आप www.rajasthan.gov.in जाएं इसके अलावा आप यदि किसी भी प्रकार का कोई भी प्रोफेशनल कोर्स (Professional Course) करना चाहते है, तो उसके लिए आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की बहुत अच्छी तैयारी करनी होगी. इन तैयारियों को ध्यान में रखते हुए ही तथा छात्रों की पढ़ाई में मदद करने के लिए ही राजस्थान सरकार ने एसएमएस पोर्टल () लॉन्च किया है. जिसके तहत पढ़ने वाले अभ्यार्थी कोचिंग सुविधा पाने के लिए अपना s.m.s. 24 सितंबर तक भेज सकते है. योजना की पात्रता और विस्तृत जानकारी को जाने के लिए भी आप राजस्थान सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते है.

Rajasthan Anuprati Yojana

राजस्थान सरकार के द्वारा शुरू की गई अनुप्रति योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन और एप्लीकेशन फॉर्म राजस्थान सरकार की वेबसाइट पर उपलब्ध हो चुके है. यह योजना राजस्थान में वर्ष 2005 में की गई थी इस योजना के अंतर्गत राज्य के अनुसूचित जाति जनजाति पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग के बीपीएल कार्ड धारकों के होनहार छात्रों को अलग-अलग प्रतियोगी परीक्षाएं की तैयारी करने के लिए यह सुविधा शुरू की गई है

हम आपको बता दें कि भारत में भारतीय सिविल सेवा,राजस्थान सिविल सेवा, आईटीआई ,आईआईएमसी, पीएमटी एनआईटी अथवा राजकीय इंजीनियरिंग एवं मेडिकल कॉलेज में चयन के लिए प्रवेश परीक्षाएं देनी होती है. लेकिन इन परीक्षाओं को पास करने के लिए बहुत सारी चीजों की जरूरत होती है. राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के होनहार छात्रों के लिए इसी योजना के तहत आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है.

क्या है Rajasthan Anuprati Yojana

राजस्थान अनुप्रति योजना (Rajasthan Anuprati Yojana) अखिल भारतीय सिविल परीक्षा (Akhil Bhartiye Civil Exam) में अलग-अलग स्तर पर होने वाली परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों को सरकार द्वारा ₹100000 देने का ऐलान किया गया है. यह धनराशि होनहार छात्रों (Students) को अलग-अलग स्तर पर उपलब्ध कराई जाएगी इस योजना का लाभ उठाने के लिए अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति विशेष पिछड़ा वर्ग के परिवारों की वार्षिक आय ₹200000 से अधिक नहीं होनी चाहिए. इसके अलावा राजस्थान अनुप्रति योजना (Anuprati Yojana) के अंतर्गत राजस्थान सरकार ने अपने राज्य में आयोजित होने वाली इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफल होने वाले छात्रों को भी आर्थिक सहायता देने का फैसला किया है, जो बच्चे मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेना चाहते है उन बच्चों को भी राजस्थान सरकार की तरफ से राजस्थान अनुप्रति योजना के तहत ₹10000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी.

अक्टूबर तक किया जा सकता है,संस्था परिवर्तन

सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग द्वारा अक्टूबर 2021 तक अलग-अलग प्रोफेशनल कोर्स और नौकरियों के लिए आवेदन मंगाए गए है. राजस्थान अनुकृति योजना के अंतर्गत अब तक कुल 45 संस्थानों को कोचिंग सुविधा देने के लिए चुना गया है, और इस योजना के तहत अब तक लगभग 100000 से भी अधिक बच्चों ने आवेदन किया है. आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद लक्ष्य के अनुरूप वरीयता प्राप्त छात्रों का चयन किया जाएगा और उन्हें इन 45 संस्थानों के माध्यम से फ्री कोचिंग सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. राजस्थान अनुकृति योजना 2021 के अंतर्गत राजस्थान के सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग द्वारा आयोजित की जाने वाली अलग-अलग प्रतियोगी परीक्षाएं के लिए आवेदन 24 अक्टूबर 2021 से पहले ही किया जाना चाहिए. ताकि आवेदकों का समय से चयन हो सके और उन्हें दाखिला प्राप्त हो सके.

प्रतिवर्ष चुने जाएंगे 10000 छात्र

राजस्थान अनुप्रति योजना (Rajasthan Anuprati Yojana) के अंतर्गत हर साल लगभग 10000 छात्रों को फायदा पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है. इसके अलावा प्रदेश के वह विद्यार्थी जो आर्थिक रूप से कमजोर थे उनके लिए भी सरकार के द्वारा अलग-अलग आर्थिक सहायताओं की राशियों का घोषणा किया जा चुका है

यह भी जाने :

Leave a Comment