ज्ञानवापी मस्जिद केस क्या है- ज्ञानवापी मस्जिद से जुड़ी पूरी जानकारी

ज्ञानवापी मस्जिद केस क्या है: इस वक्त अगर सोशल मीडिया और मेन स्ट्रीम मीडिया की बात की जाए तो चारों तरफ ज्ञानवापी मस्जिद का मुद्दा सुर्खियों में बना हुआ है। ज्ञानवापी मस्जिद और काशी विश्वनाथ मंदिर आपस में काफी चिपके हुए हैं। हिंदू पक्ष का आरोप है कि gyanvapi Masjid हिंदुओं के मंदिर को तोड़कर बनाई गई है। हालांकि यह मुद्दा औरंगजेब के काल का है। इस वक्त अब लोगों का ये दावा है मस्जिद में शिवलिंग मिला है। लोगों के इस दावे के बाद से परिसर को सील कर दिया गया है। जिसके चलते सियासत और तेज हो गई है। अब ये मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। हाल ही में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मस्जिद की वीडियोग्राफी कर सर्वे करने का आदेश दिया था। मस्जिद परिसर में वीडियोग्राफी का काम पूरा हो चुका है। सोशल मीडिया पर वीडियोग्राफी के कुछ क्लिप लीक किए गए हैं। वीडियो में ऐसा दावा किया जा रहा है कि वीडियो में शिवलिंग दिखाई दे रहा है वहीं मुस्लिम पक्ष का कहना है कि यह शिवलिंग नहीं एक फव्वारा है। जिसको लेकर लोगों में और भी ज्यादा उत्सुकता जाग गई है। आपको बता दें कि कई लोगों का ऐसा दावा है कि औरंगजेब ने इस मंदिर को तोड़कर मस्जिद का निर्माण करवाया था। जो आज ज्ञानवापी मस्जिद के रूप में सबके सामने है।

ज्ञानवापी मस्जिद केस क्या है (Gyanvapi case kya hai)

दरअसल ज्ञानवापी मस्जिद काशी विश्वनाथ मंदिर का मुद्दा काफी पुराना है। सन 1984 में दिल्ली में धर्म संसद का आयोजन किया गया था, जिसमें देशभर के कई संत महात्मा शामिल हुए थे। इस धर्म धर्म संसद में कई मुद्दे उठे। अयोध्या और बाबरी मस्जिद का मामला भी इनमें से एक था। इसी संसद में ज्ञानवापी मस्जिद और काशी विश्वनाथ का मुद्दा भी उठा। जिसके बाद से इस मुद्दे ने जोर पकड़ा। मुद्दे ने इस कदर जोर पकड़ा की इसके पश्चात मुद्दा कोर्ट पहुंचा। इस केस को काशी विश्वनाथ मंदिर के पुरोहित के वंशज और कुछ कार्यकर्ताओं ने मिलकर कोर्ट पहुंचाया।

आज के हमारे इस लेख में हम आपको ज्ञानवापी मस्जिद से जुड़े सभी पहलुओं के बारे में जानकारी देने वाले हैं। Gyanvapi Masjid से जुड़ी सभी जानकारियां प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस लेख के साथ अंत तक जुड़े रहना होगा। आज के इस लेख में हम आपको बताएंगे ज्ञानवापी मस्जिद का इतिहास क्या है, ज्ञानवापी मस्जिद केस क्या है, ज्ञानवापी मस्जिद का फैसला क्या है, ज्ञानवापी मस्जिद लेटेस्ट न्यूज़। आपको इन सभी प्रश्नों के जवाबों के लिए हमारे इस लेख के साथ जुड़े रहना होगा।

Gyanvapi Masjid Latest News (ज्ञानवापी मस्जिद लेटेस्ट न्यूज़)-

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर लेटेस्ट न्यूज़ यही है कि मस्जिद की वीडियोग्राफी का काम पूरा हो चुका है। वीडियोग्राफी के कुछ क्लिप सोशल मीडिया पर इस वक्त वायरल हो रहे हैं जिनमें क्या दावा किया जा रहा है कि मस्जिद के अंदर शिवलिंग जैसी आकृति पाई गई है। वहीं दूसरे पक्ष का कहना है कि यह शिवलिंग नहीं केवल एक फव्वारा है। इस पर अब लोगों को कोर्ट के फैसले का इंतजार है। शिवलिंग मिलने की बात को लेकर कई पार्टियों के बीच में सियासी घमासान शुरू हो चुका है। कई हिंदू व मुस्लिम पक्ष के नेता बयानबाजियाँ कर रहे हैं।

Gyanvapi Masjid Latest News Overview-

आर्टिकल ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दा क्या है
लोकेशन वाराणसी
मामले की सुनवाई (कोर्ट) इलाहाबाद हाई कोर्ट
याचिकाकर्ता 5 महिलाएं
मुद्दा मस्जिद के स्थान पर मन्दिर होने का दावा

क्या है ज्ञानवापी मस्जिद का मुद्दा-

बाबरी मस्जिद और राम मंदिर के बाद फिर से देश में एक ऐसा मुद्दा उठा है, जिसने लोगों की धार्मिक भावनाओं को सक्रिय कर दिया है। इस बार यह मुद्दा ज्ञानवापी मस्जिद का है। हालांकि काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद एक पुराना मुद्दा है, लेकिन एक बार फिर इस मुद्दे ने तूल पकड़ लिया है। दरअसल हाल ही में मस्जिद के परिसर में स्थित श्रृंगार गौरी और कई ढांचों का सर्वे किया गया, जिसके बाद से सोशल पर यह मुद्दा ट्रेंड में बना हुआ है। इसके बाद इस मुद्दे को मुख्यधारा की मीडिया की कवरेज भी मिलने लगी।

कोर्ट में उठी श्रृंगार गौरी में पूजा की मांग-

इस वक्त लोग इंटरनेट पर ये सर्च कर रहे हैं कि ज्ञानवापी मस्जिद वाराणसी मामला क्या है। ज्ञानवापी मस्जिद न्यूज क्या है। हाल ही में 5 महिलाओं ने रोजाना श्रृंगार गौरी में पूजा करने के लिए कोर्ट में मांग उठाई है। याचिका दर्ज होने के बाद मामले में जज रविकुमार दिवाकर ने पूरे परिसर की वीडियोग्राफी कर सर्वे करने के निर्देश दिए। यही वह वजह है, जिसके कारण ज्ञानवापी मस्जिद इस वक्त सुर्खियों में बनी हुई है।

क्या है ज्ञानवापी मस्जिद मामला-

दरअसल आपको बता दें कि काशी का विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद आपस में काफी सटे हुए हैं। कहावतें ऐसा कहती हैं औरंगजेब ने अपने समय में काशी विश्वनाथ मंदिर को तोड़कर मस्जिद का निर्माण करवाया था। इस मुद्दे को लेकर काफी लंबे समय से एक समूह विशेष के लोग ज्ञानवापी मस्जिद को हटवाने की मांग कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ दूसरा पक्ष मस्जिद को बचाने की मांग कर रहा है।

ज्ञानवापी मस्जिद का इतिहास क्या है-

आपको बता दें कि इस मस्जिद को लेकर पहला विवाद 1984 में शुरू हुआ था। 1984 में दिल्ली में धर्म संसद का आयोजन किया गया था, जिसमें देशभर के कई संतों ने हिस्सा लिया था। इस संसद में अयोध्या के मुद्दे के साथ-साथ कई अन्य मुद्दों पर बातचीत हुई थी। इसी संसद में काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद का मुद्दा भी उठा। मुद्दे ने इस प्रकार जोर पकड़ा कि 1991 में यह मामला कोर्ट पहुंच गया। इस मामले को काशी विश्वनाथ मंदिर के पुरोहित के वंशजों और कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं ने कोर्ट में पहुंचाया। मामले को लेकर कोर्ट में याचिका दायर की गई।

याचिका में उठी थी ये मांग-

याचिका में ज्ञानवापी मस्जिद को प्लेसेस ऑफ वरशिप एक्ट 1991 से बाहर रखने की मांग उठी। आपको बता दें कि इस एक्ट के तहत आजादी से पहले के सभी धार्मिक ढांचों को उनके असल रूप में रखने की बात कही गई है। इस कानून के तहत आजादी से पहले के किसी भी धार्मिक ढांचे से किसी प्रकार की कोई छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। ऐसे में याचिकाकर्ताओं ने ज्ञानवापी मस्जिद को इस एक्ट से बाहर रखने की मांग उठाई। जिससे यहां पर कुछ बदलाव किए जा सके। अब तक ये मामला 22 सालों से लंबित है। अब इस मुद्दे की सुनवाई इलाहाबाद हाईकोर्ट में की जा रही है। जिसके बाद से मुद्दे ने हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जगह बनाई हुई है।

ज्ञानवापी मस्जिद का फैसला-

इस वक्त ज्ञानवापी मस्जिद का केस कोर्ट में जारी है। अब तक कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। इस वक्त ज्ञानवापी मस्जिद के परिसर में सर्वे और वीडियोग्राफी की जा रही है। वीडियोग्राफी पूरी होने के पश्चात कोर्ट इस पर संज्ञान लेगा। इस वक्त इस पर कोई टिप्पणी नहीं की जा सकती कि वह एक मंदिर है या मस्जिद।

Gyanvapi Masjid issue पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQs)-

ज्ञानवापी मस्जिद केस क्या है?

वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर के बगल में एक मस्जिद है जिसे ज्ञानवापी मस्जिद कहा जाता है। दरअसल ऐसे दावे किए जाते हैं कि इस मस्जिद को औरंगजेब ने मंदिर की जगह पर बनवाया है। इस वक्त लोगों ने इस मुद्दे को लेकर हंगामा करना शुरू कर दिया है। बाकी ज्ञानवापी मस्जिद के बारे में विस्तार से हमने हमारे लेख में ज्ञान की जानकारी दी हुई है।

ज्ञानवापी मस्जिद कहां है?

आपको बता दें कि ज्ञानवापी मस्जिद उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित है। यह मस्जिद काशी विश्वनाथ मंदिर के बिल्कुल बगल में स्थित है।

Leave a Comment