Mukhyamantri kanya utthan yojana 2021: लड़कियों को 50 हजार की धनराशि दे रही है रही है सरकार, देखें आवेदन एवं पात्रता की पूरी जानकारी

Mukhyamantri kanya utthan yojana 2021 बिहार के सभी बालिकाओं के उत्थान के लिए बिहार सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना शुरू की गई है. इस योजना के तहत बिहार की बालिकाओं को लाभ  देने हेतु बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी ने इस योजना को शुरू किया है. मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना की मदद से बिहार की सभी बालिकाओं को साक्षर और सशक्त बनाने के लिए उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने की कोशिश की जा रही है.

mukhyamantri kanya uthan yojana

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत बालिकाओं को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करने के लिए, और उनके जन्म से लेकर के ग्रेजुएशन तक की पूरी पढ़ाई करने के लिए बिहार सरकार की तरफ से इस योजना को शुरू किया गया है. इस योजना की मुख्य बात यह है,कि यह योजना केवल और केवल लड़कियों के लिए ही है. इस योजना के माध्यम से लड़कियां उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे और राज्य के विकास के लिए प्रयासरत रहेंगे.

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के माध्यम से राज्य में लड़कियों की साक्षरता दर की प्रतिशत में भी इजाफा होगा. बालिकाओं या लड़कियों का साक्षर होना बहुत जरूरी है.कहते भी है कि यदि एक लड़की शिक्षित होती है, तो वह 3 परिवारों को शिक्षित करती है. इसीलिए लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाना और उन्हें साक्षर बनाना बिहार सरकार का मुख्य उद्देश्य है.

 Mukhyamantri kanya utthan yojana 2021 क्या है.

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना बिहार सरकार के द्वारा लड़कियों के उज्जवल भविष्य के लिए शुरू की गई योजना है.इस योजना के तहत बालिकाओं को शिक्षित और आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है. इस योजना के तहत लड़कियों को जन्म से लेकर उनके आगे की पूरी पढ़ाई के लिए बिहार सरकार के द्वारा सहायता प्रदान की जाएगी. इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाया जाए. किसी भी तरह के आर्थिक परेशानी के कारण उनकी पढ़ाई बाधित ना हो तथा कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को रोका जा सके

बिहार सरकार के द्वारा बेटी के जन्म पर उनके लालन-पालन को प्रोत्साहित करने हेतु ₹2000 और पहले टीके के लिए ₹1000 दिए जाएंगे. इसी प्रकार बेटी को साल भर के बाद आगे चलकर सरकार के द्वारा अलग-अलग समय पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाती रहेगी. राज्य सरकार द्वारा सभी बालिकाओं को यूनिफॉर्म और सैलरी पर देने का भी प्रावधान किया गया है इस योजना के तहत सरकार लगभग 54 1000 ₹100 खर्च करने की योजना बना रही है.

मुख्यमंत्री उत्थान योजना से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

 Mukhyamantri kanya utthan yojana से जुड़े कुछ विशेष बातें हम आपको बता रहे है. बिहार सरकार के द्वारा लड़कियों के लिए शुरू की गई योजना का नाम मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना है. इस योजना की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी के द्वारा की गई है. योजना को बिहार सरकार की महिला विकास निगम समाज कल्याण विभाग के द्वारा संचालित किया जाएगा. इस योजना का उद्देश्य बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करना और आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है. इस योजना के तहत केवल और केवल लड़कियों को ही लाभ प्राप्त होगा यदि आपके घर में भी लड़की है तो ऑनलाइन आवेदन करके इस योजना का फायदा उठाया जा सकता है.

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के उद्देश्य क्या है

 मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का उद्देश्य बिहार की बालिकाओं को शिक्षित करके उन्हें सशक्त बनाना है. इस योजना के मदद से सरकार यह कोशिश कर रही है, कि प्रदेश की बालिकाओं को आगे बढ़ाया जा सके और उन्हें उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया जा सके साथ ही भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को रोकने के लिए भी सरकार के द्वारा मुझे योजना शुरू की गई है. दिनों दिन बिहार और अन्य कई राज्यों में लड़कियों की संख्या कम होती जा रही है. इस गंभीर स्थिति को ध्यान में रखते हुए भी नीतीश कुमार जी के द्वारा यह योजना शुरू की गई है,क्योंकि अब बेटियों का खर्चा सरकार के द्वारा उठाया जाएगा.इसीलिए यह उम्मीद की जा रही है कि राज्य में धीरे धीरे बेटियों की संख्या बढ़ेगी तथा स्तरीय अनुपात के बीच की खाई को कम किया जा सकेगा.

बिहार मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के लाभ

 बिहार मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना 2021 बिहार सरकार के द्वारा बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करना है.इस योजना के दूरगामी परिणाम होंगे पढ़ी-लिखी लड़कियां समाज और देश को आगे बढ़ाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देती है. इसके अलावा शिक्षित महिलाओं के लिए समाज की सोच भी बदलेगी जब महिला शिक्षित होंगे, तो वह अपनी खुद से जुड़ी हुई समस्याओं को समाधान करने में सक्षम हो जाएंगे तथा गरीब परिवार की लड़कियों को भी आगे बढ़ने का मौका मिलेगा वे लोग जो अपनी लड़कियों को आर्थिक खराब स्थिति की वजह से पढ़ाई छुड़वा देते थे. वे लोग भी इस योजना के तहत आगे आए है, और अपने लड़कियों को पढ़ाने के लिए संकल्प लेने लगे है मुख्यमंत्री योजना के तहत स्कूली छात्राओं को यूनिफॉर्म भी दी जा रही है.इसके अलावा उन्हें कॉपी किताब के खर्चे के साथ-साथ सेनेटरी पैड इत्यादि की भी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है.

इन्हें भी पढ़ें-

Leave a Comment