मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना: लड़कियों की शादी के लिए 71 हजार रूपये दे रही है सरकार, ऐसे करें आवेदन

मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना: केंद्र सरकार अथवा राज्य सरकारों के द्वारा समय-समय पर आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए कोई ना कोई योजना चलाती रही है| आज हम आपको बता रहे है, यदि आप निम्न वर्ग से संबंध रखते है, और आप अपनी लड़की की शादी करना चाहते है| परंतु आपके पास धन व्यवस्था नहीं है, तो इसके लिए आप मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत आवेदन कर सकते है| इस आवेदन के तहत आपको अपनी पुत्री की शादी के लिए लगभग ₹71000 सरकार द्वारा प्रदान किए जाएंगे।

इस योजना के माध्यम से हरियाणा सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत लाभार्थियों को सहायता प्रदान कर की जा रही है| इस सहायता के अंतर्गत गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले अनुसूचित जाति के परिवारों को कन्यादान के लिए यह राशि प्रदान की जा रही है।

प्रदेश सरकार द्वारा कन्यादान की घोषणा।

प्रदेश सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के अंतर्गत जो लोग गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन कर रहे है| उन्हें सरकार के द्वारा अपनी पुत्री के कन्यादान के लिए ₹71000 प्रदान किए जा रहे है| इसके अलावा विधवाओं को यह राशि ₹51000 दी जाएगी।इस घोषणा के अंतर्गत प्रदेश सरकार के उपायुक्त महावीर कौशिक ने बताया कि मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना का लाभ लेने के लिए विवाह की निर्धारित तिथि से 2 महीने पहले आवेदन किया जाना चाहिए|

 पहले आवेदन की यह तिथि 1 माह पूर्व होती थी| लेकिन अब उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के लिए शर्त में संशोधन किया गया है, और आप विशेष स्थिति में यदि आवेदन करना चाहते हैं तो आप विवाह के 6 महीने पहले भी आवेदन कर सकते है| इस आवेदन की स्वीकृति जिला उपायुक्त कार्यालय द्वारा दी जाती है| उपायुक्त ने बताया कि इस योजना में संशोधन के बाद यदि विवाह को लेकर कोई विशेष परिस्थितियां है,तो आप 3 माह के भीतर भी आवेदन कर सकते है,इस आवेदन को महानिदेशक अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के द्वारा प्राप्त होंगी।

योजना का उद्देश्य।

उपायुक्त द्वारा बताया गया कि मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के अंतर्गत ₹66000 की राशि शादी के अवसर पर तथा ₹5000 की राशि 6 महीने के अंदर रजिस्ट्रेशन कराने पर दी जाएगी| इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को मिलने वाली शगुन की राशि को बढ़ाकर अब ₹31000 कर दिया गया है| इसके अलावा ₹11000 की राशि कन्या दान के तौर पर भी सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी| उपायुक्त ने बताया कि बीपीएल परिवारों की लड़कियों को उनकी शादी के अवसर पर ₹28000 प्रथम किस्त ₹3000 शादी के 6 महीने के अंदर शादी का पंजीकरण कराने के पश्चात प्रदान की जाएगी| जो लोग भी इस योजना के तहत आवेदन कर रहे है, उन परिवारों की वार्षिक आय ₹180000 से कम होनी चाहिए| इसके अलावा आप इस योजना का फायदा उठाने के लिए किसी भी कार्य दिवस के दौरान लघु सचिवालय के द्वितीय खंड में जाकर के जिला कल्याण अधिकारी के कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।

हरियाणा विवाह शगुन योजना 2021

हरियाणा सरकार शुरू किए गए विवाह शगुन योजना 2021 के माध्यम से आप आवेदन कर सकते है| यदि आप शादी शगुन योजना ऑनलाइन पंजीकरण लाभ लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहते है, तो हम आपको यहां पर इस विषय से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान कर रहे है।

पंजीकरण

हरियाणा सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना 2021 के तहत पंजीकरण कराने के लिए आपको ₹71000 की राशि प्रदान की जाएगी| पहले यह राशि ₹51000 थी प्रदेश सरकार के द्वारा गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति और समुदाय के लड़कियों के लिए शगुन के तौर पर यह राशि प्रदान की जा रही है।

महिला खिलाड़ियों के लिए सहायता।

मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के अंतर्गत महिला खिलाड़ियों को भी उनकी शादी के लिए ₹31000 की धनराशि प्रदेश सरकार के द्वारा प्रदान की जा रही है| यह राशि किसी भी जाति या खिलाड़ी की चाहे कितनी भी अधिकतम आय  हो प्रदान की जाएगी।

विवाह शगुन योजना के तहत आवेदन करने के लिए पात्रता और योग्यता की शर्तें।

यदि आपके परिवार में शादी है, और आप अनुसूचित जाति व जनजाति से संबंध रखते है, तो यह जानकारी आपके लिए है| यदि आप अपनी पुत्री का विवाह कर रहे हैं और आपको पैसों की जरूरत है, तो आप विवाह शगुन योजना 2021 के तहत आवेदन कर सकते है| इस योजना के तहत जोड़ी योग्यता की शर्तें हम आपको यहां पर बता रहे है, जिसके आधार पर आप आसानी से सरकार के द्वारा प्रदान की जाने वाली इस सहायता का लाभ प्राप्त कर सकते है।

आप जिसने प्रदेश में रहते है, आपके पास उस प्रदेश का स्थाई पता होना आवश्यक है| यानी आपको उस प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए।

  • लड़की की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए तथा वर्ग की उम्र 21 साल से या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • यदि आप एक साथ एक ही परिवार की दो लड़कियों का विवाह कर रहे हैं तो आप दोनों के विवाह के लिए इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।
  • शादी के पंजीकरण के 6 महीने के भीतर ही आपको यह राशि प्राप्त हो सकती है| यदि आपने शादी का पंजीकरण 6 माह के बाद कराया तो आपको यह धनराशि प्राप्त नहीं होगी।
  • महिला खिलाड़ियों के लिए यहां पर थोड़ी छूट प्रदान की गई है, और इनके लिए विशेष शर्त यह है कि लड़की के परिवार की सालाना आय ₹100000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

Leave a Comment