PM Awas Yojana: प्रधानमंत्री ने भेजी आवास योजना की किश्त, देखें लिस्ट में अपना नाम

PM Awas yojana: प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीब और पिछड़े लोगों के लिए सरकार के द्वारा घर बनाने की आर्थिक मदद प्रदान की जा रही है. जानिए आप कैसे कर सकते है. इस योजना के तहत आवेदन या कैसे आपको मिल सकता है. इस योजना का लाभ क्या है, शर्तें.

PM Awas yojana

PM Awas Yojana उन लोगों का सपना है, जो अपना खुद का घर होने के बारे में सोचते है. इस योजना के तहत देश के जितने भी ग्रामीण और शहरी इलाकों के परिवार जो झुग्गी और बस्तियों में या फिर सड़कों के किनारे रह कर अपना गुजारा कर रहे है. ऐसे लोगों को उनके खुद के मकान देने की घोषणा सरकार के द्वारा की गई है.

PM Awas Yojana

PM Awas yojana List 2021

प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची जारी कर दी गई है. यदि आपने इस योजना के तहत आवेदन किया है या करना चाहते है. तो हम आपको इसके बारे में इस लेख में बता रहे है. PM Awas yojana के तहत होम लोन पर लगभग 2.67 लाख यूनिट की सब्सिडी प्रदान की जा रही है. यह सब्सिडी अलग-अलग श्रेणियों के तहत दी जा रही है. इस योजना में लाभार्थियों के खाते में सब्सिडी की राशि को सीधे ट्रांसफर किया जाता है. कुल मिलाकर हम यह कह सकते है. कि यह एक तरीके का क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना है. जिसमें पैसे को एक खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर किया जाता है. ऋण पर मिलने वाली सब्सिडी को क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी कहा जाता है.

 कब हुई इस योजना की शुरुआत.

प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत मोदी सरकार के द्वारा 22 जून 2015 को की गई थी. इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन लोगों को घर मुहैया कराना था,जो गरीब की झोपड़ी बस्तियों या फिर सड़कों के किनारे अपना जीवन यापन कर रहे है. उन लोगों के लिए भी है. जो किराए के घरों में रहते है. ऐसे लोग अपना खुद का घर होने का सपना देखते है. प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य वर्ष 2022 तक ऐसे सभी लोगों को उनका स्वयं का घर उपलब्ध कराना है. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सरकार के द्वारा शहरी क्षेत्रों में झुग्गी झोपड़ी कच्चे मकानों में रहने वाले ईडब्ल्यूएस एलआईजी और एमआईजी इनकम ग्रुप के व्यक्तियों को शामिल किया जाएगा. यदि आप भी आवास योजना ऑनलाइन फॉर्म खोज रहे है. तो आपको इसके लिए आवास योजना 2021 के पोर्टल पर जाना होगा.

योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी

उत्तर प्रदेश में लगभग 3516 घरों को इस योजना के तहत बनाने की संस्तुति की गई है. हम आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद ने इस योजना के अंतर्गत सस्ती दरों पर गरीब लोगों को मकान दिलवाने का भरोसा दिलाया है. यदि आप इस योजना के तहत आवेदन कर रहे है. तो हम आपको बता दें आवेदन करने की तिथि 1 सितंबर 2020 से शुरू हो चुकी है. और इसकी बुकिंग की अंतिम तिथि 15  दिसंबर 2021 उत्तर प्रदेश के 19 शहरों में इन मकानों को बनाने का प्रावधान किया गया है.

इन मकानों को गरीब परिवार के लोग केवल  ₹350000 में ही खरीद पाएंगे और वह सभी लोग जिनकी सालाना आय ₹300000 से कम है. इन मकानों के लिए आवेदन कर सकते है. उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद ने लोगों को उनकी मकान की पहली किस्त चुकाने के लिए 5 वर्ष तक का समय दिया था. लेकिन अब यह समय 3 वर्ष कर दिया गया है. यानी 3 वर्ष के भीतर भीतर आपको लोन ली गई राशि को ब्याज समेत चुकाना होगा.

 प्रधानमंत्री आवास योजना 2021 महत्वपूर्ण अपडेट.

 प्रधानमंत्री आवास योजना हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 2015 में शुरू की गई थी. इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य यह था, कि सरकार 2022 तक सभी लोगों को उनके निजी मकान उपलब्ध कराना चाहती थी.इस योजना के अंतर्गत अब तक 1.12 करोड़ घरों का निर्माण किया जा चुका है. और आगे भी इस पर काम चल रहा है. इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में अधिक से अधिक बनाने की कवायद की गई है. हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत कुल मकानों की संख्या 1.1 करोड़ है. 20 जनवरी 2021 को एक बैठक हुई थी जिसमें 14 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश के अधिकारियों ने हिस्सा लिया था।

 इस बैठक के महत्वपूर्ण निर्णय थे कि सरकार ने लगभग 1.6 घंटे के बारे में अधिकारियों को निर्देश दिए थे.इसके अलावा केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा राज्य में चलाए जाने वाले सभी प्रोजेक्ट में संशोधन भी किए जाने के सुझाव मांगे गए थे. प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अब तक लगभग 41 लोगों के घर पूरे हो चुके है. और 7000000 लोगों के घरों का निर्माण कार्य चल रहा है. इस योजना में जिन घरों का निर्माण किया जा रहा है. उसमें सभी बुनियादी सुविधाएं मौजूद होंगी सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश इस योजना को पूरे जोर-शोर के साथ चला रहे है.

इन्हें भी पढ़ें:

Leave a Comment