PM Kisan Mandhan Yojana : किसानों को हर महीने मिलेंगे 3 हजार रूपये, देखें पात्रता एवं आवेदन की प्रक्रिया

PM Kisan Mandhan Yojan: प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना इस योजना के तहत मिलेंगे, आपको ₹3000. जानिए कितना करना होगा निवेश, कैसे मिल सकता है. आपको इस योजना का फायदा ,और क्या है इस योजना के फायदे.सभी जानकारियां प्राप्त करने के लिए आपको पढ़ना होगा हमारा यह लेख, जिसे आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है.

PM Kisan Mandhan Yojana

PM KISAN MANDHAN YOJANA

पीएम किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार के द्वारा किसानों के लिए चलाई जा रही योजनाओं में से एक है. हम आपको बता दें कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने मिलकर के किसानों के लिए प्रतिवर्ष कोई ना कोई नई योजना लेकर आती रहती है.पीएम श्रम योगी मानधन योजना भी इन्हीं योजनाओं का एक हिस्सा है. इसके अलावा इस योजना के तहत किसानों के भविष्य को भी सुरक्षित करने की कवायद की गई है. प्रधानमंत्री मानधन किसान योजना के तहत किसान यदि चाहे तो हर महीने थोड़ा-थोड़ा निवेश करके अपने रिटायरमेंट के बाद मंथली पेंशन की योजना का लाभ उठा सकते है.

किसानों को यह मंथली पेंशन उनके 60 साल की उम्र के हो जाने के बाद मिलेगी.हम आपको बता दें कि यदि आप इस योजना के तहत आवेदन कर रहे है, तो आप को प्रतिमाह ₹3000 मिल पाएंगे. जब आप 60 वर्ष के हो जाएंगे सरकार के द्वारा यह योजना किसानों के लिए ही शुरू की गई है, इसीलिए किसान यदि चाहे तो ₹55 से लेकर के ₹200 प्रति माह तक निवेश कर सकते है. यह उनकी उम्र पर निर्भर करेगा कि वह कितनी अधिकतम राशि को निवेश करना चाहते है.

 किसानों के हित में है यह योजना.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना किसानों के भविष्य को देखते हुए बनाई गई है. इस योजना में किसान यदि चाहे तो निवेश करके अपने बुढ़ापे को सुरक्षित रख सकते है. किसानों को उनकी आकस्मिक मौत पर पैसे का फायदा भी मिलेगा. प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ उठाने के लिए सरकार की तरफ से कुछ शर्तें लागू की गई है. यह स्कीम छोटे और सीमांत किसानों के लिए उपलब्ध है हम आपको बता दें कि यदि आप इस योजना के तहत आवेदन करते है तो आपको अपनी आयु का ध्यान रखना चाहिए. इसका मतलब यह है कि आप की उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिए. इसके अलावा ही आप अपने संबंधित राज्य या फिर केंद्र शासित प्रदेश के किसान की कृषि योग्य भूमि 2 हेक्टर से अधिक नहीं होनी चाहिए.

क्या है प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पेंशन योजना

 प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना एक ऐसी योजना है.जिसमें गरीब किसानों को शामिल किया गया है. वह किसान जिनकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच में है.इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है हम आपको बता दें कि किसानों को पहले इसमें निवेश करना होगा तभी 60 साल की उम्र पूर्ण होने के बाद उन्हें इस पेंशन योजना का लाभ मिल पाएगा, और प्रतिमा उन्हें ₹3000 सरकार के तरफ से प्रदान किए जाएंगे. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना पेंशन के तहत यदि आप चाहें तो सालाना ₹36000 वाली पेंशन स्कीम का फायदा प्राप्त कर सकते है.पेंशन योजना की खास बात यह है कि इस स्कीम के लिए आपसे कोई भी सरकारी कागजात नहीं मांगे जा रहे है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक 12 करोड़ किसानों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है.

 प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के द्वारा किसानों के लिए ऐसी सुविधा उपलब्ध करा दी गई है. इस योजना का फायदा यह है कि यदि आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जुड़े है,तो आपको यह किस्त भी जमा कराने की जरूरत नहीं है क्योंकि सरकार के द्वारा यह घोषणा की गई है कि आप किसानों को प्रति वर्ष जो स्कीम के तहत ₹6000 प्रदान किए जाते है. उसी रुपयों में से मानधन स्कीम के तहत पैसे काट लिए जाएंगे. यानी आपको अपनी जेब से एक भी रुपया किस्त के तौर पर नहीं जमा कराना है. प्रधानमंत्री पेंशन स्कीम योजना की शुरुआत 21 दिसंबर 2021 को हुई थी और अब तक लगभग 2142876 किसानों ने अपना पंजीकरण करा लिया है. हम आपको बता दें कि लोग यदि चाहे तो वह प्रीमियम देने के लिए नया विकल्प चुन सकते है जिसमें से किसान स्कीम के तहत ही प्रीमियम की किस्त काट ली जाएगी.

 प्रधानमंत्री मानधन पेंशन स्कीम.

 प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना भारतीय जीवन बीमा निगम के साथ मिलकर इस योजना को चलाएगा. इस पेंशन स्कीम में 50000000 किसानों को 7 साल की आयु पूरी होने तक हर माह ₹3000 पेंशन के तहत प्रदान किए जाएंगे. ₹36000 सालाना करने की एक शर्त यह  है कि उन्हीं किसानों को इस योजना का फायदा होगा. जिनके पास 2 हेक्टर तक कृषि योग्य भूमि है. इस योजना की खास बात यह है कि 60 साल की उम्र होने के बाद किसानों को हर महीने ₹3000 प्रदान किए जाएंगे न्यूनतम प्रीमियम को ₹55 से लेकर के ₹200 प्रति दिन तक भरा जा सकता है. यदि पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाती है तो उसकी पत्नी को 50 फ़ीसदी की रकम पेंशन योजना स्वरूप मिलती रहेगी. इसके अलावा यदि कोई आवेदन इसी को बीच में छोड़ना चाहता है तो उसका जमा पैसा और उसका साधारण ब्याज उसे वापस मिल जाएगा. इसके अलावा इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन कराने की कोई अतिरिक्त फीस आपसे नहीं जाएगी.

इन्हें भी पढ़ें:

Leave a Comment