Pradhanmantri Mudra Yojana (PMMY): खुद का बिजनेस खोलने की लिए सरकार दे रही है 10 लाख रुपये, ऐसे करें आवेदन

स्वरोजगार एवं आत्मनिर्भर भारत को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार नागरिकों को बिजनेस करने के लिए 10 लाख टके लोन दे रही है। यह लोन प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत दिया जा रहा है। कोरोना के कारण भारत मे कई लोग बेरोजगार हुए थे कई लोगों ने अपनी नौकरी को खोया था ऐसे में भारत सरकार लोगों को खुद का रोजगार खोलने के लिए प्रेरित कर रही है जिससे वह खुद भी अपनी आजीविका चलाएं एवं रोजगार का सृजन करें जिससे बढ़ती बेरोजगारी कम हो।

pradhanmantri mudra yojana

यदि आप भी अपना खुद का कारोबार खोलने का विचार बना रहे है तो यह खबर आपके लिए ही है। आप भी प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंर्तगत आवेदन करके 10 लाख तक का लोन प्राप्त कर सकते हैं। इस पोस्ट में हम आपको पूरी जानकारी देंगे।

क्या है Pradhanmantri Mudra Yojana

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत भारत सरकार और बैंक के सहयोग से कम ब्याज दरों में उनके लिए लोन उपलब्ध करा रहे है जो अपना खुद का व्यापार खोलने की तलाश में है। उन लोगों को सरकार सस्ते ब्याज पर एवं बिना गारन्टी के 10 लाख तक का लोन उपलब्ध कराएगी। यह योजना भारत सरकार ने अप्रैल 2015 में शुरू की थी। तबसे लगातार यह योजना एक्टिव है। इस योजना के तहत बिना किसी गारंटी और प्रोसेसिंग शुल्क के आपको लोन दिया जाएगा।

कितना लोन देगी सरकार

शिशु लोन50 हजार तक का लोन
किशोर लोन50 हजार से 5 लाख तक का लोन
तरुण लोन5 लाख से 10 लाख तक का लोन

Pradhanmantri Mudra Yojana के लिए डॉक्यूमेंट

शिशु लोन के लिए दस्तावेज

  • पहचान का प्रमाण
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक का फोटो
  • अल्पसंख्यक प्रमाण ( यदि होतो)
  • व्यवसायिक उद्यम का पहचान/पते का प्रमाण
  • मौजूदा बैंकर से पिछले 6 महीनों के स्टेटमेंट

किशोर/तरुण लोन के लिए दस्तावेज

पहचान का प्रमाण, निवास प्रमाण पत्र,अल्पसंख्यक प्रमाण ( यदि हो तो), व्यवसाय का प्रमाण, पिछले 6 महीने का रिकॉर्ड, आयकर ब्रिकी रिटर्न, आयकर/बिक्री कर रिटर्न आदि के साथ मौजूदा इकाइयों की पिछले दो वर्षों की बैलेंस शीट (2 लाख रुपए और उससे अधिक के ऋण के लिए लागू) , कार्यशील पूंजी सीमा के मामले में एक वर्ष के लिए स्टार्ट-अप/मौजूदा इकाइयों की अनुमानित बैलेंस शीट और सावधि ऋण के मामले में ऋण की अवधि के लिए (2 लाख रुपए और उससे अधिक के लोन के लिए लागू), आवेदन जमा करने की तिथि तक (मौजूदा इकाइयों के मामले में) चालू वित्तीय वर्ष के दौरान प्राप्त बिक्री, प्रोफार्मा चालान/खरीदी जाने वाली संपत्ति के लिए कोटेशन और किए जाने वाले सिविल कार्यों के लिए अनुमान, यदि कोई हो। यदि आवश्यक हो तो उधारकर्ता के साथ तकनीकी व्यवहार्यता और आर्थिक व्यवहार्यता के पहलू पर चर्चा की जा सकती है, निदेशकों और भागीदारों सहित उधारकर्ता की संपत्ति और देयता विवरण, कंपनी के मेमोरेंडम और आर्टिकल्स ऑफ एसोसिएशन/पार्टनरशिप डीड ऑफ पार्टनर्स आदि, जहां भी लागू हो, आवेदक/मालिक/भागीदारों/निदेशकों के फोटो (दो प्रतियां) जो 6 माह से अधिक पुराने न हों।

किन्हें मिलेगा योजना का लाभ ?

इस योजना का लाभ सोल प्रोपराइटर, पार्टनरशिप, सर्विस सेक्टर की कंपनियां, माइक्रो उद्योग, मरम्मत की दुकानें, खाने से संबंधित व्यापार, विक्रेता, ट्रकों के मालिक, माइक्रो मैन्युफैक्चरिंग फर्म आदि इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

कैसे मिलेगा योजना का लाभ

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का लाभ लेने के लिए आप अपने किसी भी बैंक से ले सकते है। लोन लेने के लिए आपको एक फॉर्म के साथ आइडेंटी प्रूफ, ऐड्रेस प्रूफ देना होगा। इस लोन का उपयोग सिर्फ लघु उद्योग स्थापित करने के लिए कर सकते हैं।

Leave a Comment