RRBNTPC_1student_1result : रिजल्ट को लेकर छात्र अब कर रहे हैं यह मांग, ट्रेंड हुआ

RRBNTPC_1student_1result : भारत एक ऐसा देश है जहां अधिकतर युवा नौकरी की तलाश में रहते हैं, और जब उन्हें नौकरी मैं रिक्वायरमेंट की खबर मिलती है तब उन्हें काफी आशा रहती है कि वह इसके लिए जी जान से मेहनत करके उस नौकरी को पा सके और अपनी जिंदगी को आसान बना सके, मगर नौकरी के एग्जाम में अगर स्कैम होजाए तो ये उन सभी युवाओं को निराश कर देती है। और ऐसे ही अब रेलवे बोर्ड के एग्जाम में हुआ है। जी हां आरआरबी एनटीपीसी (RRB NTPC) रिक्वायरमेंट (Recruitment) की रिजल्ट (Result) आते ही यह सामने आया कि एक ही उम्मीदवार को कई पद मिल चुके हैं, और यह खबर अब ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है।

RRB NTPC REVISED RESULT

RRBNTPC_1Student_1Result

RRBNTPC_1Student_1Result

रिजल्ट निकलते ही जब युवाओं को इस मामले में गड़बड़ी लगी तो यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा। यह मामला अब बवाल मचा रहा है, इस मामले को लेकर उम्मीदवारों का यह कहना है कि उनके साथ नाइंसाफी हुई है, परीक्षा देने वाले छात्र काफी भड़के हुए है रेलवे बोर्ड पर, की आखिर ऐसा कैसे हो गया की एक ही छात्रों को कई पदों पर चयन किया गया। 

RRBNTPC_1student_1result परीक्षा देने वाले युवाओं को लंबे इंतजार के बाद रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड की एनटीपीसी भर्ती की सीबीटी लेवल 1 की रिजल्ट जानने को मिला है, बता दे रेलवे ने रीजनल  वेबसाइट पर रिजल्ट को जारी किया था। उम्मीदवारों का आरोप यह है कि रेलवे बोर्ड ने कई ऐसे युवाओं को अलग-अलग पदों के लिए चयन कर लिया है। इसी वजह को लेकर अब छात्रों ने परीक्षा रिजल्ट को फिर से जांच करने की मांग की है। 

मामला इतना गरमाया की अब ट्विटर पर #RRBNTPC_1student_1result टॉप ट्रेंड कर रहा है। आरआरबी एनटीपीसी के परीक्षा देने वाले छात्रों का कहना है कि उनके साथ यह सरासर धोखा हुआ है। ट्विटर ट्वीट के जरिए छात्रों न्याय की मांग कर रहे हैं। 

सोशल मीडिया पर मीम वायरल (RRB NTPC MEME Viral) 

आरआरबीएनटीपीसी के स्कैम (Scam) (RRBNTPC_1student_1result) के बाद सोशल मीडिया पर मीम वायरल होने लगे है, स्टूडेंट्स अपना गुस्सा मीम के जरिए भी दिखा रहे है, छात्रों का कहना है कि आखिर कब तक उनके मानसिकता के साथ खेला जाएगा। 

इतना ही नहीं नरेंद्र मोदी और रेलवे मिनिस्टर को लोग ट्विटर पर टैग करके इस बात की जानकारी दे रहे हैं, और उन से न्याय की मांग कर रहे हैं। कुछ छात्रों का ये भी कहना है कि अगर उनकी बात नहीं मानी जाती है तो बड़ा आंदोलन होगा। 

स्टूडेंट्स का कहना है कि 35 हजार पदो पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए थे रेलवे बोर्ड की ओर से, पहले चरण के बाद लगभग 8 लाख उम्मीदवारों को लिया जाना था और हर रीजन (Regional) के खाली पदो के अनुसार 7 से 8 गुना युवा क्वालीफाई होने थे मगर जारी किया गया रिजल्ट में क्वालीफाई हुए उम्मीदवारों की संख्या रीजन की रिक्तियों की तुलना में तीन से चार गुना ही है।

इसके बाद रेलवे बोर्ड (Railway board) ने जवाब देते हुए कहा कि शॉर्टलिस्ट तय नियम अनुसार ही किया गया है, योग्यता के आधार पर चयन किया है। केंद्रीकृत रोजगार अधिसूचना के 13.2 के अनुसार शॉर्ट लिस्टिंग प्रत्येक स्तर के लिए अलग-अलग विकल्पों पर उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर की गई है। (CBT 2) के लिए उम्मीदवारों को प्रत्येक रीजनल RRB की पदों के 20 गुना अनुपात में शॉर्टलिस्‍ट किया गया है. अगर किसी छात्र ने समान कट-ऑफ स्‍कोर किया है तो उन सभी को शॉर्टलिस्‍ट किया गया है

Leave a Comment