{यहां है पूरी जानकारी} जानें संस्कृत शब्द का हिंदी अर्थ | Sanskrit Shabd ka Hindi Arth

संस्कृत एक ऐसी भाषा है जिसे देववाणी माना जाता है। जिसका अर्थ है देवों की भाषा। ऐसा माना जाता है की संस्कृत देवी देवताओं द्वारा प्रयोग की जाने वाली एक भाषा है जिसके कारण इसे एक शुद्ध भाषा माना जाता है। संस्कृत विश्व की सबसे पुरानी भाषाओं में से एक मानी जाती है। क्या आपने कभी सोचा है संस्कृत शब्द का हिंदी अर्थ क्या है? गूगल पर अक्सर ये सर्च किया जाता है कि संस्कृत का हिंदी अर्थ क्या है।
आज भी हिन्दू धर्म में होने वाले जरूरी संस्कार जैसे-विवाह, मृत्यु और मुंडन संस्कार जैसे कार्यक्रमों में संस्कृत भाषा का बहुत महत्व है। आज संस्कृत भाषा काफी सीमित हो चुकी है, बेहद कम लोग इस भाषा का प्रयोग करते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे sanskrit shabd ka hindi arth संस्कृत शब्द का हिंदी अर्थ क्या है?

संस्कृत शब्द का हिंदी अर्थ (Sanskrit Shabd ka Hindi Arth)

संस्कृत शब्द का हिंदी में अर्थ है विभूषित, समलंकृत या संस्कारयुक्त। संस्कृत का शाब्दिक अर्थ होता है संस्कारित अर्थात संस्कार की हुई, परिमार्जित अथवा सुधरी हुई भाषा।

संस्कृत शब्द 2 शब्दों के मेल से बना है। संस्कृत शब्द सम और कृत के मेल से बना है। जिसमे ‘सम’ का अर्थ ‘सही से बनी’ और ‘कृत’ का अर्थ ‘बनी हुई’ है। इसके अलावा संस्कृत का अर्थ दोष रहित भी होता है।
आपको बता दें कि वैदिक धर्म से संबंधित लगभग सभी धर्मग्रंथ, वेद संस्कृत भाषा में ही लिखे गए हैं। इसी वजह से इस भाषा को विश्व की सबसे पौराणिक भाषा और वेदों की भाषा के रूप में जाना जाता हैं।

आशा करते हैं हमारे द्वारा दिया गया आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि संस्कृत भाषा का हिंदी अर्थ क्या है।

Leave a Comment