SOLAR ROOFTOP YOJANA: फ्री में लगवाएं सोलर पैनल, ऐसे करें आवेदन

SOLAR ROOFTOP YOJANA: सौर ऊर्जा भविष्य की ऊर्जा है. आने वाले समय में एक बहुत बड़ी स्तर पर ऊर्जा की खपत सोलर एनर्जी और न्यूक्लियर एनर्जी के द्वारा की जाएगी भारत में धीरे-धीरे कॉलेज फ्यूल सेल नोबल एनर्जी की तरफ झुकाव बढ़ रहा है. सौर ऊर्जा के महत्व को देखते हुए भारत सरकार ने 1111 ग्रेड पर योजना शुरू की है. जिसका लक्ष्य भारत में सोलर एनर्जी का उत्पादन करना है.

solar rooftop yojana

सरकार का बिजली उत्पादन के स्तर को बढ़ाने के लिए सौर ऊर्जा का इस्तेमाल करना और देश को आत्मनिर्भर बनाना है. इस परियोजना के तहत सरकार ने ग्रेड के जरिए अफ्रीका के कई देशों में बिजली निर्यात करने का भी फैसला किया है. सोलर एनर्जी को प्रमोट करने के लिए भारत सरकार ने बहुत सारी योजनाएं चला रखी है. इसे योजना में से एक योजना है. SOLAR ROOFTOP YOJANA को सरकार के द्वारा सब्सिडी प्राप्त होगी और यह बिना पोलूशन के या बिना किसी झंझट के अच्छा विकल्प हो सकता है.

 SOLAR ROOFTOP YOJANA

भारत सरकार के द्वारा SOLAR ROOFTOP YOJANA की शुरुआत ऊर्जा मंत्रालय के द्वारा की गई है. 3 किलो वाट तक के सोलर रूफटॉप पैनल को लगवाने के लिए सरकार आपको 40% तक सब्सिडी दे रही है. हम आपको बता दें कि 3 किलो वाट से 10 किलो वाट तक 20% सब्सिडी केंद्र सरकार के द्वारा भी प्रदान की जा रही है. सोलर पैनल को लगाने में जितना भी खर्च होगा उसकी भुगतान करने के लिए आपको पांच से 6 साल का समय मिलेगा इसके बाद आप 19 से 20 साल तक फ्री बिजली का इस्तेमाल कर पाएंगे इसके अलावा सोलर पैनल का इस्तेमाल आप अपने दुकानों कंपनियों और कारखानों के लिए भी कर सकते है. इस काम के लिए भी सरकार के द्वारा फ्री सोलर पैनल योजना के तहत सब्सिडी प्रदान की जा रही है.

 SOLAR ROOFTOP YOJANA कैसे करें आवेदन

 यदि आप भी अपने घर मकान दुकान या ऑफिस में सोलर पैनल लगवाने की सोच रहे है. इसके लिए आपको solarrooftop.gov.in की वेबसाइट पर आवेदन करना होगा होम पेज पर जाकर अप्लाई फॉर सोलर रूफटॉप के ऑप्शन पर क्लिक करें एक नया पेज खुलेगा जिस पर आप को राज्य के माध्यम से क्लिक करना होगा राजा के माध्यम से क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर सोलर उसके लिए आवेदन फॉर्म खुलेगा इसमें अपने सभी जरूरी जानकारियां भरकर सबमिट कर दें इस प्रक्रिया के बाद आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा

क्या है SOLAR ROOFTOP YOJANA

 SOLAR ROOFTOP YOJANA भारत सरकार के द्वारा शुरू की गई महत्वकांक्षी योजना है. इस योजना की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किसानों की आमदनी को दुगना करने के लिए अथवा आम नागरिकों को बिजली की अधिक खपत से बचाने के लिए की है. सूत्रों की मानें तो यह कहा जा रहा है. कि वर्ष 2022 तक इस किसानों की आय को दोगुना किया जा सकता है. इसके अलावा इस योजना का फायदा देश के सभी सीमांत किसानों को भी प्राप्त होगा इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवारों को प्रधान मंत्री सोलर पैनल योजना के तहत आवेदन करना चाहिए इस योजना की खास बात यह है. कि जहां किसानों को सिंचाई के लिए डीजल का इस्तेमाल करना पड़ता था वहीं अब सोलर पैनल का इस्तेमाल करके आराम से बिजली उत्पादन कर सकते है. और अपने फसलों की सिंचाई कर सकते है. इसके अलावा यदि उनके पास अधिक बिजली पैदा होती है. तो वह कंपनियों को भी इस बिजली को भेज सकते है.

 फ्री सोलर पैनल रजिस्ट्रेशन 2021

 प्रधानमंत्री के द्वारा शुरू की गई योजना के तहत यदि आवेदन करना चाहते है. तो हम आपको बता दें कि इसके लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा इस योजना के तहत गांव में रहने वाले किसानों को ₹6000 दिए जाएंगे केंद्र सरकार के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा 1 फरवरी 2020 को इस योजना की शुरुआत की गई थी पहले चरण में 2000000 किसानों को फायदा देने की कवायद की गई है. सोलर पैनल योजना को कुसुम योजना के नाम से भी जाना जाता है.

 सोलर पैनल योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

 सबसे बड़े और महत्वपूर्ण बात यह है. कि यदि आप फ्री सोलर पैनल योजना के तहत आवेदन करना चाहते है. तो सरकार के द्वारा आपको सब्सिडी दी जाएगी और इसके अलावा जब आप आवेदन करें तो आपके पास अपना स्वयं का आधार कार्ड जमीन से संबंधित सभी आवश्यक दस्तावेज पहचान पत्र राशन कार्ड पैन कार्ड घोषणापत्र बैंक अकाउंट नंबर मोबाइल नंबर पासपोर्ट साइज का फोटो इत्यादि होना चाहिए आपके बैंक खाता और आधार कार्ड से जुड़ा हुआ होना चाहिए

 प्रधान मंत्री सोलर पैनल योजना के लाभ

 प्रधान मंत्री सोलर पैनल योजना के तहत सरकार के द्वारा 60% राशि का भुगतान किया जा रहा है. 40% राशि का भुगतान आपको स्वयं करना होगा 60% में से 30% केंद्र सरकार और 30% राज्य सरकार के द्वारा सब्सिडी दी जाएगी इस योजना में देश के लगभग 2000000 किसानों को मौका दिया जा रहा है. इसके अलावा इस योजना के माध्यम से सभी किसानों को आय में वृद्धि होने का संकल्प लिया गया है. सोलर पैनल को लगाने के लिए सरकारी या गैर सरकारी किसी भी कंपनी का पैनल लगाया जा सकता है.

इसके अलावा किसानों के पास बिजली बच रही है. तो वह इसे सरकार को यह गैर सरकारी कंपनी को बेच सकते है. पर्यावरण को प्रदूषित करने के लिए डीजल एक महत्वपूर्ण कारण था परेशानी को दूर करने के लिए भी सोलर पैनल एक अच्छा विकल्प हो सकता है. अगर आप सोलर पैनल को लगाते है. तो आपको ₹6000 तक की अतिरिक्त आय प्राप्त हो सकती है. सोलर प्लांट के नीचे छोटी किसान दाल सब्जियां वगैरह सकती है.

Leave a Comment