Up Free Boring Yojana: फ्री में बोरिंग करवा रही है सरकार, ऐसे लें योजना का लाभ

Up Free Boring Yojana: किसान देश का आधार स्तंभ है इसलिए किसानों को खेती करने में कोई परेशानी न हो इसलिए भारत सरकार किसानों के हित मव कई योजनाएं चलाती है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने किसानों के सहूलियत के लिये एक बेहतरीन योजना (Scheme) चलाई है जिससे किसानों को खेती में सीधा लाभ मिलेगा।

up free boring yojana
up free boring yojana

जैसा कि आप जानते हैं खेती में पानी की सबसे बदु भूमिका होती है इसलिए उपजाऊ खेती करने के लिए राज्य सरकार किसानों के खेतों में नलकुप लगाने के लिए नलकूप लगा रही है।

उत्तर प्रदेश के वह किसान (Farmer) जिन्हें सिंचाई के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ती है वह अपने खेत मे बोरिंग ककरवा कर इन योजना का लाभ उठा सकते हैं। आगे इस योजना के पात्रता एवं आवेदन संबंधी सारी जानकारी दी गई है।

उत्तर प्रदेश फ्री बोरिंग योजना (Up Free Boring Yojana) क्या है ?

खेती में सिंचाई महत्वपूर्ण अंग है यदि खेती के दौरान हमें पर्याप्त सिंचाई ना मिल पाए तो खेती उपजाऊ नहीं होती है उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले किसान (Farmer) जिनके पास सिंचित भूमि नहीं है यह सिंचाई के लिए साधन नहीं है या किसी कारणवश अपनी फसलों को पानी नहीं दे पा रहे हैं या फिर नहरें नहीं आ रही हैं तो वह अपने खेतों में बोरिंग करा कर सरकार की यूपी फ्री बोरी योजना का लाभ ले सकते हैं ऐसे बोरिंग के लिए सरकार उन्हें राशि देती है।

सरकार द्वारा जारी उत्तर प्रदेश फ्री बोरिंग योजना (Up Free Boring Yojana) में लाभ लेने के लिए किसानों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होता है ऑनलाइन आवेदन के पश्चात किसान (Farmer) का वेरिफिकेशन होता है इसके बाद खाते में बोरिंग के लिए पैसा आता है। आगे हमने बोरिंग के लिए पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज की जानकारी दी है।

कैसे मिलेगा योजना का लाभ

उत्तर प्रदेश फ्री बोरिंग योजना ( Up Free Boring Yojana ) के तहत किसानों को बोरिंग के लिए धनराशि दी जाती है यह योजना उनके लिए है जिनके खेतों में सिंचाई की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। इस योजना के तहत छोटे एवं सीमन सीमांत किसानों को बोरिंग के लिए राशि तथा पम्पसेट (Pumpset) ख़रीदने के लिए सब्सिडी दी जाती है। इस योजना (Scheme) का क्रियान्वन सिंचाई विभाग द्वारा किया जाता है।

Up Free Boring Yojana में मिलने वाली सब्सिडी

  • छोटे किसानों को अधिकतम 5 हजार की राशि बोरिंग के लिए दी जाती है।
  • पम्प सेट खरीदने पर 4500 की सब्सिडी दी जाती है।
  • सीमांत किसानों को अधिकतम 6 हजार की सब्सिडी दी जाती है।
  • अनुसूचित जाति जनजाति के छोटे एवं सीमांत किसानों (Farmers) को अधिकतम 10 हजार की सब्सिडी दी जाती है।

Up Free Boring Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • खेती के दस्तावेज
  • पासपोर्ट फोटो
  • मोबाइल नंबर

Up Free Boring Yojana Registration Process

  • योजना (Scheme) की आधिकारिक वेबसाइट पर जायें।
  • योजना की लिंक पर क्लिक करें
  • आवेदन में पूछी गयी जानकारी दर्ज करें।
  • संबंधित दस्तावेज अपलोड करें।
  • फाइनल सबमिट कर दें।

यह भी जाने :

Leave a Comment