Yogi Government News: अभिभावकों के खाते में 1100 रूपये भेज रही योगी सरकार, पढ़ें पूरी खबर

Yogi Government News: उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा सरकार परिषदीय और अशासकीय सहायता प्राप्त प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले प्रत्येक बच्चे के माता-पिता के बैंक खाते में 1100-1100 सौ रुपेय भेजने की योजना बनाई जा रही है. इस योजना की शुरुआत श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा की जा रही है. इस योजना से लगभग उत्तर प्रदेश के 1 करोड़ 60 लाख छात्र छात्राओं को लाभ पहुंचेगा.

yogi government news
yogi government news

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घोषणा (Yogi Government News)

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा शनिवार को कक्षा 1 से 8 तक पढ़ने वाले परिषदीय, अशासकीय, सहायता प्राप्त प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में 1100-1100 सौ रुपेय की राशि प्रदान की जाएगी. इस घोषणा का फायदा प्रदेश के लगभग 1.6 करोड़ बच्चों को मिलेगा. यह धनराशि बच्चों के अभिभावकों के बैंक खातों में जमा कराई जाएगी. यह धनराशि योगी सरकार जी के द्वारा ऑनलाइन ट्रांसफर किए जाएंगे.

वजीफा घोषणा

हम आपको बताना चाहते है कि शनिवार को सीएम श्री योगीनाथ जी के द्वारा बच्चों को 2 जोड़ी यूनिफॉर्म एक स्वेटर एक जोड़ी जूता 2 जोड़ी मोजे और स्कूल बैग के लिए क्रमश से 300, 600, 200,125 और 175 रुपेय  प्रदान किए जाएंगे. यानि यह राशि कुल मिलाकर 1100 रुपेय की होगी.  इस योजना का लाभ प्रदेश में स्थित परिषदीय सहायता प्राप्त प्राथमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को प्राप्त होगा.

वजीफा घोषणा की शुरुआत अभिभावकों को दिए जाएंगे सीधे 1100-1100 सौ रुपेय

.एक महत्वपूर्ण जानकारी के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में पढ़ने वाले लगभग डेढ़ करोड़ से अधिक छात्रों को सरकार के द्वारा वजीफा देने की घोषणा की गई है. इस वजीफे को छात्रों को उनके माता-पिता के बैंक अकाउंट के माध्यम से प्रदान किया जाएगा जिससे स्कूली छात्र अपने लिए 2 जोड़ी यूनिफॉर्म 1 जोड़ी जूते एक स्वेटर दो जोड़ी मुझे और एक स्कूल में खरीद सकते है।

इस काम के लिए अकाउंट फंडिंग का काम पूरा किया जा चुका है,मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम के उद्घाटन के बाद इसे अभिभावकों के खातों में ट्रांसफर कर दिया जाएगा. अभी तक प्रत्येक बच्चे को यह चीज है प्रत्येक सत्र में मुफ्त उपलब्ध कराई जाती थी और जरूरतों को पूरा करने के लिए अलग-अलग प्रक्रिया को अपनाया जाता था. लेकिन भ्रष्टाचार के कुछ शिकायतों की वजह से तथा छात्रों को मिलने वाले सामानों की गुणवत्ता को लेकर लगातार शिकायतें मिल रही थी. इसी वजह से लखनऊ में आयोजित एक समारोह में सीएम श्री योगी आदित्यनाथ जी ने मुफ्त दी व जाने वाली चीजों की जगह छात्रों को सीधे धनराशि वजीफे के तौर पर प्रदान करने की घोषणा की और कार्यक्रम के समाप्त होने के पश्चात श्री योगी आदित्यनाथ जी स्वयं इस ऑनलाइन ट्रांजैक्शन की शुरुआत करेंगे तथा अभिभावकों के खातों में पैसों को ट्रांसफर करेंगे.

क्या है उद्देश्य

योगी सरकार के द्वारा लगभग प्रदेश में पढ़ने वाले हर बच्चे को अभिभावक के बैंक अकाउंट के माध्यम से डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के तहत 1100-1100 सौ रुपेय भेजे जा रहे है. इस योजना के तहत लगभग 1800 करोड रुपए की राशि को अभिभावकों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा यह धनराशि सीधे बैंक खातों में भेजे जाने की मुख्य वजह यह है, कि इससे भ्रष्टाचार में कमी आएगी और अभिभावक अपनी जरूरत और संतुष्टि के हिसाब से अपने पढ़ने वाले बच्चों के जरूरतों का सामान खरीद पाएंगे. श्री योगी आदित्यनाथ जी का ऐसा करने के पीछे मुख्य उद्देश्य यह है कि इससे बच्चों को सभी सुविधाएं समय पर मिलेंगे तथा स्कूल में उनकी अनुपस्थिति कम होगी और सीखने सिखाने के वातावरण में सुधार होगा.  साथ ही उन्होंने यह भी साफ किया कि DBT के माध्यम से धनराशि ट्रांसफर होने पर पारदर्शिता व्यवस्था स्थापित हो सकेगी तथा भेजी गई रकम को ऑडिट रोल भी किया जा सकेगा.

जानिए किस चीज़ के लिए कितना  धन

  • 2 जोड़ी यूनिफार्म ₹600 प्रति यूनिफार्म ₹300
  •  1 जोड़ी जूता वाह मौजा ₹125
  •  एक स्वेटर ₹200
  •  एक स्कूल बैग ₹175

क्या है छात्रों को वजीफा देने का कारण

यूपी सरकार में बेसिक शिक्षा मंत्री श्री सतीश द्विवेदी के जी के द्वारा बताया गया कि प्रदेश के भीतर लगभग कई वर्षों से शिकायतें आ रही थी, कि बच्चों को पढ़ने लिखने के लिए जो सामान सरकार के द्वारा प्रदान किया जाता है, उसकी गुणवत्ता से अभिभावक संतुष्ट नहीं थे.  इसके अलावा भ्रष्टाचार की समस्या मुख्य बातें इन्हीं शिकायतों को दूर करने के लिए यूपी सरकार के द्वारा परिषदीय विद्यालयों के लगभग 1.60 करोड़  छात्र छात्राओं को यह धनराशि प्रदान की जा रही है हम आपको बता दें कि यह धनराशि अभिभावकों के खातों में DBT  के माध्यम से ट्रांसफर किया जाएगा इसका मुख्य कारण यह है कि अभिभावक अब इस धनराशि का इस्तेमाल अपनी संतुष्टि के लिए कर सकेंगे. यानी वह अपने बच्चों की उम्र और उनके साइज के हिसाब से उनके लिए कपड़े जूते मुझे स्कूल बैग इत्यादि खरीद सकते है. इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा शनिवार शाम को लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री आवास पर शाम को 5:00 बजे करेंगे.

किन छात्रों को मिलेगा लाभ।

हम आपको बताना चाहते है कि योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा इस योजना का लाभ प्रदेश के लगभग 1.60 करोड़ छात्र छात्राओं को मिलेगा. यह धनराशि छात्रों को डीबीटी के माध्यम से प्रदान की जाएगी इस योजना के तहत बेसिक शिक्षा विभाग के द्वारा निशुल्क यूनिफॉर्म स्कूल बैग की धनराशि को अभिभावकों के खातों में भेजने के लिए लांच किया गया है. अभिभावकों के यह खाते उनके आधार कार्ड के साथ जुड़े हुए हैं.

Leave a Comment